शिकारियों से मुठभेड़ में शहीद पुलिसकर्मियों के परिजनों को 1-1 करोड़ रुपए देगी सरकार, गृहमंत्री बोले- दोषियों को ऐसी सजा देंगे जो नजीर बन जाएगी

Edited By meena, Updated: 14 May, 2022 04:21 PM

government will give 1 1 crore rupees to the families of policemen martyred

गुना के आरोन में शिकारियों से हुई मुठभेड़ में तीन पुलिसकर्मियों की गोली मारकर हत्या करने के मामले में शिवराज सरकार सख्त दिखाई दे रही है। गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने साफ शब्दों में कहा है कि आरोपियों को ऐसी सजा देंगे जो नजीर बन जाएगी।

भोपाल(प्रतुल पाराशर): गुना के आरोन में शिकारियों से हुई मुठभेड़ में तीन पुलिसकर्मियों की गोली मारकर हत्या करने के मामले में शिवराज सरकार सख्त दिखाई दे रही है। गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने साफ शब्दों में कहा है कि आरोपियों को ऐसी सजा देंगे जो नजीर बन जाएगी। वहीं सीएम शिवराज सिंह चौहान ने उच्चस्तरीय बैठक बुलाई है। घटनास्थल पर देरी से पहुंचने पर ग्वालियर के IG अनिल शर्मा को हटा दिया गया है। वहीं पुलिसकर्मियों के परिजनों 1-1 करोड़ का मुआवजा देने का ऐलान किया है।

PunjabKesari
 

दिग्विजय सिंह बोले- गुना के लिए शर्म की बात
कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह ने घटना की निंदा की है। उन्होंने कहा कि शुक्रवार रात को गुना ज़िले के आरोन थाने में पुलिस इंस्पेक्टर जाटव प्रधान आरक्षक, भार्गव व आरक्षक मीना की हिरन के शिकारियों ने हत्या कर दी। मैं इसकी घोर निंदा करता हूं। पुलिस से अनुरोध करता हूं कि इन अपराधियों की जांच कर इन्हें कठोर से कठोर सजा दिलवाएं। तीनों पुलिस कर्मी परिवारों को मेरी संवेदनाएं। इन तीनों पुलिस कर्मी परिवारों को पर्याप्त मुआवज़ा, उनके सेवा निवृत्त होने के समय तक पूरा वेतन, उनके बच्चों को निःशुल्क शिक्षा व एक परिवार जन को शासकीय अनुकम्पा नियुक्ति तत्काल दें। हमारे गुना ज़िले के लिए शर्म की बात है।

PunjabKesari

बता दें कि गुना जिले के आरोन क्षेत्र में हिरण और अन्य वन्यजीवों का शिकार कर लौट रहे आधा दर्जन से अधिक बदमाशों ने एक बड़ी जघन्य घटना को अंजाम देते हुए गोलियां चलायीं, जिससे तीन पुलिस कर्मचारी शहीद हो गए और पुलिस का वाहन चला रहा एक व्यक्ति गंभीर रूप से घायल हो गया। घटनास्थल से जो प्रारंभिक चित्र प्राप्त हुए हैं, वे वीभत्स घटना को अंजाम देने की ओर साफतौर पर इशारा कर रहे हैं। पुलिस सूत्रों के अनुसार देर रात आरोन थाना क्षेत्र में आधा दर्जन से अधिक शिकारियों के छिपे होने की सूचना मिली थी।



PunjabKesari

पुलिस का गश्ती वाहन वहां पहुंचा। तभी अचानक बदमाशों ने हमला कर दिया। इस दौरान आरोपियों ने पुलिस वाहन पर गोलियां भी चलायीं। इस वजह से उप निरीक्षक राजकुमार जाटव, प्रधान आरक्षक नीरज भार्गव और आरक्षक संतराम मीणा का निधन हो गया। वाहन चालक लखन गिरी को गंभीर स्थिति में यहां जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटनास्थल पर वन्यजीवों के शिकार के प्रमाण भी मिले हैं। 

Related Story

Trending Topics

Indian Premier League
Lucknow Super Giants

Royal Challengers Bangalore

Match will be start at 25 May,2022 07:30 PM

img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!