देश के लिए नजीर बने छत्तीसगढ़ के ‘हमर लैब’, राजस्थान व कर्नाटक के डॉक्टरों और अधिकारियों ने भी की तारीफ

Edited By meena, Updated: 03 Jul, 2022 01:13 PM

chhattisgarh s  hummer lab  became an example for the country

छत्तीसगढ़ के जिला अस्पतालों और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में बन रहे ''हमर लैब'' देश भर में नजीर बन गए हैं। इन हमर लैब से न केवल लोगों को हर तरह के स्वास्थ्य की जांच का लाभ मिल रहा है बल्कि अन्य राज्यों से अधिकारी और डॉक्टर भी अपने राज्यों में इस...

रायपुर(सत्येंद्र शर्मा): छत्तीसगढ़ के जिला अस्पतालों और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में बन रहे 'हमर लैब' देश भर में नजीर बन गए हैं। इन हमर लैब से न केवल लोगों को हर तरह के स्वास्थ्य की जांच का लाभ मिल रहा है बल्कि अन्य राज्यों से अधिकारी और डॉक्टर भी अपने राज्यों में इस तरह का लैब स्थापित करने यहां अध्ययन करने आने लगे हैं। हाल ही में राजस्थान और कर्नाटक के डॉक्टरों एवं अधिकारियों के दल ने राज्य के 'हमर लैब' का दौरा कर इनकी कार्य प्रणाली की जानकारी ली। जल्द ही एनएचएसआरसी (National Health System Resource Centre) नई दिल्ली तथा असम के डॉक्टरों और अधिकारियों की टीम भी इसके अध्ययन दौरे पर आने वाली है।

PunjabKesari

छत्तीसगढ़ सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग सरकारी अस्पतालों को ज्यादा से ज्यादा साधन संपन्न बनाने सुविधाएं मुहैया करा रहा है। इसलिए जिला अस्पतालों और सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में सस्ते दरों पर विभिन्न तरह की जांच की सुविधा प्रदान की जा रही है। इन 'हमर लैब' का सबसे ज्यादा लाभ कोरोना काल में मिला। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के तहत छत्तीसगढ़ सरकार हर जिला अस्पताल और सामुदायिक केंद्र पर ‘हमर लैब’ स्थापित कर रही है। 'हमर लैब' में एक ही छत के नीचे मिल रही बहुत सी डायग्नोस्टिक सेवाओं को देखने के बाद राजस्थान और कर्नाटक की टीम ने इसकी तारीफ की है। राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर स्वास्थ्य के क्षेत्र में काम कर रही सीडीसी, जपाईगो, पाथ और क्लिंटन फाउंडेशन जैसी संस्थाओं ने भी 'हमर लैब' का भ्रमण कर इसकी प्रशंसा की है।

PunjabKesari

राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की संचालक डॉ. प्रियंका शुक्ला ने बताया कि 'हमर लैब' में जांच की संख्या में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। रायपुर जिला अस्पताल के 'हमर लैब' के सफल संचालन और इसके अच्छे परिणामों को देखते हुए अन्य जिला अस्पतालों में भी इसे स्थापित किया जा रहा है। राज्य के नौ जिला अस्पतालों दुर्ग, बालोद, बलौदाबाजार, कांकेर, कोंडागांव, बस्तर, सुकमा, बीजापुर और बलरामपुर तथा तीन सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों मानपुर, पाटन और पलारी में 'हमर लैब' की स्थापना की जा चुकी है। एफआरयू सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में भी इसकी स्थापना प्रक्रियाधीन है।

PunjabKesari

पाटन में स्थित देश का पहला लोक स्वास्थ्य इकाई सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र
विकासखंड स्तर पर देश का पहला लोक स्वास्थ्य इकाई (ब्लॉक पब्लिक हेल्थ यूनिट) सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पाटन में स्थापित किया गया है। वहां 'हमर लैब' के माध्यम से मरीजों को सभी तरह की जांच की सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। जिला चिकित्सालयों के 'हमर लैब' में 120 प्रकार के और सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों के लैब में 50 तरह की जांच की सुविधा है। इन लैबों का संचालन स्थानीय स्तर पर उपलब्ध संसाधनों के द्वारा किया जा रहा है।

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!