शिप्रा नदी की स्वच्छता की मांग को लेकर पानी में कूदी महिला कांग्रेस की उपाध्यक्ष, बड़ी मुश्किल से बची जान

Edited By meena, Updated: 21 Jan, 2022 01:52 PM

उज्जैन की शिप्रा नदी को साफ और स्वच्छ बनाने की मांग को लेकर महिला कांग्रेस की उपाध्यक्ष नूरी खान ने गुरुवार से जल सत्याग्रह प्रारंभ किया है। जहां अधिकारियों की समझाइश के दौरान नूरी खान नहीं मानी और प्राण त्यागने के लिए गहरे पानी मे छलांग लगा दी।...

उज्जैन (विशाल सिंह): उज्जैन की शिप्रा नदी को साफ और स्वच्छ बनाने की मांग को लेकर महिला कांग्रेस की उपाध्यक्ष नूरी खान ने गुरुवार से जल सत्याग्रह प्रारंभ किया है। जहां अधिकारियों की समझाइश के दौरान नूरी खान नहीं मानी और प्राण त्यागने के लिए गहरे पानी मे छलांग लगा दी। जहां कार्यकर्ताओं ने उन्हें बचाकर अस्पताल पहुंचाया। रामघाट पर शिप्रा नदी में उतरकर जल सत्याग्रह करने से पहले नूरी खान ने आरोप लगाया कि बीते 20 साल में सरकार ने शिप्रा को साफ करने और प्रवाहमान रखने के लिए 600 करोड़ रुपए खर्च कर दिए हैं। इसके बाद भी नदी में गंदा पानी मिल रहा है।

PunjabKesari

सरकार संतों-महंतों की मांग, भावना और श्रद्धालुओं की आस्था पर ध्यान नहीं देकर गंदे पानी को नदी में मिलने से रोकने की नौटंकी कर रही हैं। गंदा पानी रामघाट तक पहुंच रहा है। ऐसे में श्रद्धालु नदी में स्नान नहीं कर पा रहे हैं। नदी के नाम पर अब तक करोड़ों खर्च किए गए लेकिन 16 गंदे नालों का पानी तक नदी में मिलने से रोका नहीं गया है।

PunjabKesari

खान डायवर्सन के नाम पर करोड़ों का भ्रष्टाचार हुआ है। महिला कांग्रेस की उपाध्यक्ष नूरी खान ने कहा खान नदी को साफ और स्वच्छ बनाने की ठोस योजना बनाने तक आंदोलन जारी रहेगा। इस दौरान मुझे कुछ होता है तो इसकी जिम्मेदारी स्थानीय प्रशासन और सरकार की होगी। नूरी खान को मनाने पहुंचे प्रशासनिक अधिकारियों की नूरी खान ने एक न सुनी और गहरे पानी में छलांग लगा दी जहां कार्यकर्ता उन्हें गहरे पानी से निकालकर जिला अस्पताल में भर्ती कराने ले गए। 

 

 

Related Story

Trending Topics

Indian Premier League
Lucknow Super Giants

Royal Challengers Bangalore

Match will be start at 25 May,2022 07:30 PM

img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!