आदिवासी महिला को जिंदा जलाने के मामले में भड़के लक्ष्मण सिंह, बीजेपी के बचाव में उतरे महेंद्र सिंह सिसौदिया

Edited By Devendra Singh, Updated: 05 Jul, 2022 07:47 PM

laxman singh furious over burning tribal woman alive

दिग्विजय सिंह के छोटे भाई लक्ष्मण सिंह ने आदिवासी महिला (tribal woman) को जिंदा जलाने का प्रयास करने के मामले में शिवराज सरकार और प्रशासन की निंदा (shivraj government) की है।

गुना (मिसबाह नूर): मध्यप्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और चांचौड़ा से विधायक लक्ष्मण सिंह (laxman singh), धनोरिया की घटना पर आग बबूला हो गए हैं। एक आदिवासी महिला (tribal woman) को जिंदा जलाने का प्रयास करने के मामले में लक्ष्मण सिंह ने सरकार और प्रशासन की निंदा (shivraj government) की है। वहीं पलटवार करते पंचायत मंत्री महेंद्र सिंह सिसौदिया ने इसे बौखलाहट करार दिया है।  

इससे पहले लक्ष्मण सिंह (laxman singh) ने गुना जिले के बमौरी क्षेत्र में स्थित धनोरिया गांव का दौरा किया था। यहां महिला रामप्यारी बाई सहरिया के परिजनों से उन्होंने मुलाकात की। लक्ष्मण सिंह ने कहा वह इस मामले को विधानसभा में उठाएंगे। दिग्विजय सिंह (digvijaya singh) के छोटे भाई लक्ष्मण सिंह (laxman singh) ने बमौरी पुलिस की कार्यप्रणाली को संदेहास्पद बताया है और वहां पदस्थ एक प्रधान आरक्षक द्वारा जमीनों पर कब्जा कराने के आरोप लगाए हैं।

चांचौड़ा विधायक (congress mla) ने चिंता जाहिर करते हुए कहाकि जब तहसीलदार और पुलिस ने महिला को उसके खेत पर कब्जा दिला दिया था। इसके बावजूद आरोपियों ने उसे फसल नहीं बोने दी। इससे समझा जा सकता है कि दबंगों के हौंसले कितने बुलंद हैं? वह न केवल महिला को डीजल डालकर जलाते हैं, बल्कि उसका वीडियो भी बनाते हैं। ऐसी शर्मनाक वारदात उन्होंने अपने 40 साल के राजनीतिक जीवन में कभी नहीं देखी।

PunjabKesari

इसी तरह कुंभराज में कांग्रेस पार्षद प्रत्याशी संतोष अहिरवार और चांचौड़ा कांग्रेस नेता नारायण वंशकार के साथ हुई मारपीट पर भी लक्ष्मण सिंह ने नाराजगी जताई। उन्होंने हुंकार भरते हुए कहा कि कांग्रेस आदिवासी, पीडि़तों की लड़ाई लड़ती रहेगी। पहले नगर पालिका चुनाव में भाजपा को उखाड़ फेंका जाएगा, उसके बाद विधानसभा की बारी है।

वहीं कैबिनेट मंत्री महेंद्र सिंह सिसौदिया (mahendra singh sisodia) ने बीजेपी का बचाव करते हुए कहा कि सीएम शिवराज सिंह  (cm shivraj singh)ने घटना का संज्ञान लेकर तत्काल प्रशासन को वहां रवाना किया था और मैं खुद भी इसे मॉनिटर कर रहा हूं। लक्ष्मण सिंह, घटना के 3 दिन बाद सिर्फ मामले का राजनीतिकरण करने आए हैं, यह उनकी बौखलाहट को दर्शाता है।  

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!