ये महज इत्तेफाक नहीं... पत्नी की मौत के चंद घंटे बाद गम में पति ने तोड़ा दम, एक साथ उठी अर्थियां और चिताएं भी साथ जली

Edited By meena, Updated: 17 May, 2022 05:06 PM

सात फेरों के बाद पति पत्नी एक दूसरे से जीवन भर के लिए बंध जाते हैं। रस्मों में एक दूसरे का साथ निभाने की कसमें खाते हैं हालांकि बहुत से जोड़े इन कसमों को निभा पाते हैं कईं तो बीच में ही रिश्ता तोड़कर छोड़ जाते हैं। लेकिन मध्य प्रदेश के खरगोन में एक...

खरगोन(ओम रामनेकर): सात फेरों के बाद पति पत्नी एक दूसरे से जीवन भर के लिए बंध जाते हैं। रस्मों में एक दूसरे का साथ निभाने की कसमें खाते हैं हालांकि बहुत से जोड़े इन कसमों को निभा पाते हैं कईं तो बीच में ही रिश्ता तोड़कर छोड़ जाते हैं। लेकिन मध्य प्रदेश के खरगोन में एक दूसरे का अंतिम सांस तक साथ निभाने वाला दंपत्ति भी है जो जिए तो साथ में लेकिन इस दुनिया को अलविदा भी एक साथ कहा। इनकी अंतिम भी एक साथ हुई। इस अनोखी विदाई को देख हर किसी की आंख नम थी।

PunjabKesari

जी हां खरगोन जिले के देवलगांव में एक बुजुर्ग दंपत्ति की एक साथ अनूठी शव यात्रा निकली। जिन्हें बैंड बाजे और डीजे पर भजन के बीच परिजनों और ग्रामीणों ने अंतिम विदाई दी। बुजुर्ग दम्पत्ति का अंतिम संस्कार किया। दरअसल, खरगोन जिले के गोगांवा थाने के देवलगांव में 80 वर्षीय बुजुर्ग सीताबाई की मौत के करीब 8 घंटे के बाद बुजुर्ग पति 90 वर्षीय नागू गोस्वामी की भी मौत हो गई। बताया जा रहा है कि पत्नी की मौत के सदमें में ही बुजुर्ग ने दम तोड़ दिया। करीब 60 साल पहले विवाह के समय जीवनभर साथ निभाने का वादा करने वाले दंपति ने अंतिम यात्रा तक इसे निभाया।

PunjabKesari

इस दौरान दोनों की एक साथ परिजन और ग्रामीण ने बैंड बाजे की धुन में डीजे के साथ भक्तिमय भजन के साथ शव यात्रा निकाली। बेटे कैलाश ने पिता और बेटे श्याम ने मां को मुखाग्नि दी। दोनों की अर्थी एक साथ उठी तो हर समाज के लोग इसमें शामिल हुए। लोगों का कहना था कि दोनों भाग्यशाली है। भगवान कम ही लोगों को ऐसे एक साथ बुलाता है। मजदूरी पर भी साथ में जाते थे। गोस्वामी दंपति एक साथ आदिवासी क्षेत्र में जाकर महिलाओं के नाक-कान छेदने का काम करते थे। श्रृंगार सामग्री भी बेचते थे। इसके अलावा दोनों साथ में खेतों पर कपास चुनाई, मिर्च तुड़ाई, निंदाई, गुढ़ाई आदि की मजदूरी के लिए जाकर परिवार का पालनपोषण करते थे। चार बेटों और दो बेटियों का विवाह किया। नाती-पोतों की भी शादियां हो चुकी है। कमजोरी के चलते पिछले 3 वर्ष से घर पर ही रहते थे।

Related Story

Trending Topics

Ireland

221/5

20.0

India

225/7

20.0

India win by 4 runs

RR 11.05
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!