करवा चौथ: प्यार, विश्वास और त्याग की ये अनोखी कहानियां आपका दिल जीत लेगी

Edited By meena, Updated: 05 Nov, 2020 06:50 PM

karva chauth these unique stories of love

सुहागिनों के सबसे खास त्योहार के रुप में मनाया जाने वाला करवा चौथ पर महिलाएं अपने पति की लंबी उम्र के लिए दिनभर निर्जला रहती हैं और रात को चांद का दीदार करके पति के हाथ से पानी पीकर व्रत खोलती हैं। लेकिन इस बार का यह व्रत कई माइनों में बहुत...

भोपाल: सुहागिनों के सबसे खास त्योहार के रुप में मनाया जाने वाला करवा चौथ पर महिलाएं अपने पति की लंबी उम्र के लिए दिनभर निर्जला रहती हैं और रात को चांद का दीदार करके पति के हाथ से पानी पीकर व्रत खोलती हैं। लेकिन इस बार का यह व्रत कई माइनों में बहुत महत्वपूर्ण रहा क्योंकि कोरोना काल में यह व्रत आया है। पति पत्नी के रिश्ते में प्यार, विश्वास और त्याग को दर्शाने वाली कुछ ऐसी कहानियां हमारे सामने उभर कर आई जो इस रिश्ते को और भी मजबूत करती है।
PunjabKesari
कोरोना पॉजिटिव पति का दूर से लिया आशिर्वाद
होशंगाबाद के पवारखेड़ा इटारसी में संदीपा नाम की एक महिला ने अपने कोरोना संक्रमित पति के लिए व्रत रखा। उसका पति 3 नवंबर को कोरोना पॉजिटिव हुआ था और पवारखेड़ा कोविड सेंटर में भर्ती है। लेकिन शादी के बाद यह उसका पहला व्रत था इसलिए वह अपने पति के हाथों पानी नहीं पी सकी। इतना ही नहीं उसने पति का आशीर्वाद भी जमीन को छूकर लिया।

PunjabKesari
करवाचौथ वाले दिन पति कोरोना को मात देकर लौटे घर

एक ऐसी ही प्यार और त्याग की कहानी इंदौर से सामने आई है जहां तुकोगंज में पदस्थ राष्ट्रपति अवार्ड से सम्मानित कांस्टेबल लोकेश गाथे 13 अक्टूबर को कोरोना पॉजिटिव हो गए थे। पति के दूर होने से पत्नी उदास थी लेकिन करवाचौथ से ठीक एक दिन पहले ही मंगलवार शाम को उनकी निगेटिव आ गई। बुधवार को कोरोना को मात देकर वे अपने घर लौट आए। करवाचौथ के दिन गाथे के घर लौटने पर पत्नी, बच्चों के खुशी का ठिकाना नहीं रहा। पत्नी के तो मानों पैर ही जमीन पर नहीं लग रहे थे। खुशी से उनकी आंखें डबडबा उठीं।
PunjabKesari

पति पत्नी ने एक दूजे के लिए रखा व्रत
17 सालों से व्रत रखकर पति के हाथों पानी पीकर व्रत खोलने वाली सीमा ने कभी सोचा भी नहीं होगा कि उनकी तपस्या का फल उन्हें पति रमेश की सेवा के रूप में मिला। तीन साल पहले सीमा को ब्रेन हेमरेज हो गया था। पत्नी को मौत के मुंह से वापस लाने के लिए रमेश ने इंदौर, मुंबई में इलाज कराया। पति ने घर परिवार, बच्चों की देखभाल के साथ साथ सीमा को भी बखूबी संभाला। अब सीमा धीरे धीरे ठीक हो रही है। बुधवार को जब सीमा को करवा चौथ का पता चला तो उसने भी जिद की कि वह व्रत रखेगी। हालांकि सीमा बिस्तर पर हैं और उसका दूसरा ऑपरेशन बाकी है। डॉक्टर्स ने भूखा रहने पर भी मना किया है। लेकिन पति रमेश की लंबी आयु के लिए सीमा व्रत करेगी। फिर भला रमेश पीछे कैसे रहते पति रमेश भी दिनभर निराहार रहकर पत्नी के अच्छे स्वास्थ्य के लिए व्रत रखेंगे।
PunjabKesari

छुट्टी नहीं मिली तो वीडियोकॉलिंग पर खोला व्रत
ऐसी ही कहानी शिवपुरी से सामने आई है। जहां आईटीबीपी में अपनी ड्यूटी निभाते हुए छुट्टी ना मिलने से घर नहीं जा सके और उन्होंने वीडियो कॉलिंग कर मोबाइल से छलनी से पति को देखा और अपने करवा चौथ के व्रत को पूरा किया। दरअसल, शहर के आईटीबीपी में पदस्थ हेड कांस्टेबल चंद्रमोहन की शादी लॉकडाउन के दौरान 30 जून 2020 को चार महीने पहले हुई थी। मथुरा के रहने वाले चंद्रभान की शादी अलीगढ़ की पूजा से हुई। शादी के बाद पत्नी पूजा मथुरा में माता-पिता के पास रह गई और चंद्रमोहन ड्यूटी के लिए वापस शिवपुरी आ गए। उन्होंने करवा चौथ के लिए घर जाने छुट्टी के लिए एप्लीकेशन दिया लेकिन छुट्टी नहीं मिली। उन्होंने हार नहीं मानी और वीडियो कॉल कर उन्होंने अपना चेहरा करवा चौथ का व्रत कर रही पत्नी पूजा को दिखाया और इस तरह से व्रत पूरा हुआ।

PunjabKesari
इंस्पेक्टर सुनीता ने वीडियो कॉलिंग से खोला व्रत
आईटीबीपी में पदस्थ इंस्पेक्टर सुनीता की ट्रांसफर 3 महीने पहले चंडीगढ़ से शिवपुरी हुई थी। उनके पति शीशराम जम्मू में आर्मी में हेड कांस्टेबल हैं। दोनों को ही छुट्‌टी न मिलने के कारण वीडियो कॉलिंग कर अपना व्रत पूरा किया।

हेड कांस्टेबल शीला बिष्ट की इच्छा रह गई अधूरी
हेड कांस्टेबल शीला बिष्ट आईटीबीपी में पदस्थ है। उनकी शादी उत्तराखंड के पिथौरागढ़ में रहने वाले धीरेंद्र सिंह बिष्ट से हुई थी जो कॉलेज में लैब असिस्टेंट है। इस बार उन्हें छुट्टी नहीं मिली। उन्होंने भी अपना व्रत पति के साथ मोबाइल पर बात कर पूरा किया।
 

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!