रिक्शे पर सवार होकर पेशी पर पहुंचे भगवान शिव, कोर्ट ने बिना सुनवाई के लौटाया (video)

Edited By meena, Updated: 25 Mar, 2022 06:06 PM

भगवान शिव रिक्शे पर कड़ी धूप में कोर्ट पहुंचे और यहां वहां परेशान होते दिखाई दिए। इतना ही नहीं कोर्ट ने तारीख बढ़ा दी और बिना सुनवाई के उन्हें बैरंग लौटना पड़ा। यह कोई फिल्मी स्टोरी नहीं है। सचमुच में शिवमंदिर से रिक्शे में सवार कर ''शिवलिंग''  को...

रायगढ़(पुनीराम रजक): छत्तीसगढ़ में भगवान शिव को कोर्ट के चक्कर काटने पड़े। भगवान शिव रिक्शे पर कड़ी धूप में कोर्ट पहुंचे और यहां वहां परेशान होते दिखाई दिए। इतना ही नहीं कोर्ट ने तारीख बढ़ा दी और बिना सुनवाई के उन्हें बैरंग लौटना पड़ा। यह कोई फिल्मी स्टोरी नहीं है। सचमुच में शिवमंदिर से रिक्शे में सवार कर 'शिवलिंग'  को तहसीलदार के न्यायालय लाया गया था।
PunjabKesari

दरअसल, छत्तीसगढ़ के रायगढ़ राजस्व न्यायालय के नोटिस पर भगवान शिव आज पेशी पर पहुंचे, जहां रायगढ़ नगरनिगम क्षेत्र के कौहाकुंडा में एक भूखंड पर अवैध कब्जे को लेकर  रायगढ़ तहसील न्यायालय से शिव मंदिर सहित 10 लोगों को नोटिस जारी किया गया। आज 25 मार्च को पेशी थी। कौहाकुंडा के लोग आज पेशी में पहुंचे, उनके साथ भगवान 'शिव' भी थे। पेशी के लिए पुकार होने का लोगों के साथ न्यायालय के बाहर इंतजार करते रहे,लेकिन तहसीलदार नहीं थे। जिससे प्रकरण की सुनवाई की तारीख 13 अप्रैल 2022 को होने का नोटिस चस्पा कर दिया। जब तक न्यायालय के बाहर लोग शिवलिंग के साथ रहे तबतक यहां का अजब माहौल रहा। लोगों ने बकायदा भगवान शिव की पूजा -अर्चना व ,फूलमाला चढ़ाते नजर आये।

PunjabKesari

पेशी में पहुंचे लोगों का कहना है कि जब नोटिस में शिवमंदिर का उल्लेख है तो भगवान शिव को स्वयं आना पड़ा। सुधा राजवाड़े ने अवैध कब्जा हटाने उच्च न्यायालय बिलासपुर में रिट याचिका दायर की है। हाईकोर्ट के निर्देश पर रायगढ़ तहसीलदार के द्वारा सीमांकन दल का गठन किया गया। भूखंड पर अवैध कब्जा को लेकर नोटिस जारी किया। इसके लिए बकायदा शिव मंदिर सहित 10 लोगों के नाम से जारी नोटिस में 25 मार्च को राजस्व न्यायालय में उपस्थित होकर जवाब देने कहा गया था।

PunjabKesari

लोगों का कहना है कि मंदिर तो सार्वजनिक होता है। नोटिस में जैसा उल्लेख किया गया है, उसके मुताबिक पेशी तारीख को उपस्थित होने शिव मंदिर से 'शिव' को राजस्व न्यायालय पहुंचना पड़ेगा अन्यथा 10 हजार का अर्थ दंड का भागी होना पड़ेगा। इस लिए भगवान शिव के साथ लोग आज न्यायालय पहुंचे थे।

Related Story

Trending Topics

Ireland

221/5

20.0

India

225/7

20.0

India win by 4 runs

RR 11.05
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!