MP विधानसभा उपचुनाव: थम गया चुनाव प्रचार, 28 सीटों पर 3 नवंबर को होगी वोटिंग

Edited By meena, Updated: 01 Nov, 2020 05:43 PM

mp assembly by election election campaign stopped

राज्य की 28 सीटों पर 3 नवंबर को होने वाले उपचुनाव का प्रचार थम गया है। उपचुनाव के इस महासंग्राम में कांग्रेस-बीजेपी के साथ सपा, बसपा, निर्दलीय समेत कुल 355 उम्मीदवार मैदान में अपना भाग्य आजमाएंगे। इनकी राजनीतिक किस्मत का फैसला 10 नंवबर को होगा।...

भोपाल: राज्य की 28 सीटों पर 3 नवंबर को होने वाले उपचुनाव का प्रचार थम गया है। उपचुनाव के इस महासंग्राम में कांग्रेस-बीजेपी के साथ सपा, बसपा, निर्दलीय समेत कुल 355 उम्मीदवार मैदान में अपना भाग्य आजमाएंगे। इनकी राजनीतिक किस्मत का फैसला 10 नंवबर को होगा। रविवार शाम 5 बजे चुनाव प्रचार का समय खत्म हो चुका है। चुनाव में सुरक्षा के लिए मध्य प्रदेश को चुनाव आयोग से 14 कंपनिया मिली है। इन 28 सीटों में से 27 सीटे कांग्रेस की थी जबकि एक सीट आगर मालवा भाजपा की है। इन 28 सीटों में से 25 सीटें कांग्रेस विधायकों के इस्तीफे देने से व 3 सीटे कांग्रेस के 2 व भाजपा के 1 विधायक के निधन से खाली हुई हैं। भाजपा ने 25 सीटों पर उन कांग्रेस के पुराने नेताओं को उम्मीदवार बनाया है जो कांग्रेस छोड़ बीजेपी में शामिल हुए थे।

PunjabKesari

सिंधिया समेत 22 विधायक हुए थे कांग्रेस में शामिल
2018 में 15 साल बाद चुनाव जीत कर सत्ता में आई कांग्रेस सरकार के 22 विधायकों ने कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के नेतृत्व में इस्तीफा देकर भाजपा का दामन थाम लिया था। जिस वजह से तत्कालीन कांग्रेस सरकार अल्पमत में आ गई थी और तत्कालिन सीएम कमलनाथ को 20 मार्च को इस्तीफा देना पड़ा था। उसके बाद 23 मार्च को शिवराज सिंह चौहान ने चौथी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी।
PunjabKesari
नियमानुसार इस्तीफा देने के बाद 22 खाली सीटों पर उपचुनाव होना तय था लेकिन इसी बीच 2 कांग्रेस व 1 बीजेपी विधायक के निधन हो गया जबकि चुनाव आते आते भाजपा के चार और विधायकों ने कांग्रेस छोड़ दी भाजपा में शामिल हो गए। उसमें से 3 सीटों पर उपचुनाव हो रहे हैं। अगर सत्ता में कब्जे की बात करें तो मध्यप्रदेश विधानसभा की कुल 230 सीटों पर वर्तमान में भाजपा के 107 विधायक हैं जबकि कांग्रेस के 88 विधायक है। चार निर्दलीय दो BSP एवं एक सपा के विधायक हैं। भाजपा सत्ता की कुर्सी से महज 9 कदम दूर है जबकि कांग्रेस को 28 सीटों पर जीत हासिल करना बहुत जरुरी है। 

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!