शैलपुत्री के जयकारों से गूंजा शारदा धाम मैहर, प्रथम नवरात्रि पर आरती व पूजा में लगा भक्तों का तांता

Edited By meena, Updated: 17 Oct, 2020 11:37 AM

शक्ति की देवी मां दुर्गा की उपासना का पर्व शारदेय नवरात्र आज से पूरे देश में शुरू हो गया है। शारदीय नवरात्रि पर्व आश्विन शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा से प्रारंभ होता है और नवमी तिथि तक चलता है। इस बार यह त्योहार 17 अक्तूबर से शुरू हो रहा है। हिन्दू धर्म...

सतना(रविशंकर पाठक): शक्ति की देवी मां दुर्गा की उपासना का पर्व शारदेय नवरात्र आज से पूरे देश में शुरू हो गया है। शारदीय नवरात्रि पर्व आश्विन शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा से प्रारंभ होता है और नवमी तिथि तक चलता है। इस बार यह त्योहार 17 अक्तूबर से शुरू हो रहा है। हिन्दू धर्म के इस पावन पर्व पर मां दुर्गा के नौ अलग-अलग रूपों की पूजा होती है। देशभर के मंदिरों में नवरात्रि के पहले दिन मां के दर्शन के लिए मंदिरों में भीड़ देखी जा रही है। इस पावन अवसर पर भक्तों में एक अलग ही उत्साह दिखाई दे रहा है। चारों तरफ ‘जय माता की’ के जयकारों से गूंज सुनाई दे रही है। 

PunjabKesari

मध्य प्रदेश के सतना जिले में माता के धाम मैहर में विराजित नवरात्र के पहले दिन घटस्थापना का विधान है। दुर्गा का पहला रूप मां शैलपुत्री को माना जाता है। इस दिन मां दुर्गा के पहले स्वरूप मां शैलपुत्री की पूजा की जाती है। शैलपुत्री का संस्कृत में अर्थ होता है ‘पर्वत की बेटी’। त्रिकूट पर्वत पर विराजमान मैहर की जग जननी मां शारदे के नवरात्रि के पावन पर्व पर आज प्रथम दिन भव्य दर्शन करने के लिए भक्तों का तांता लगा हुआ है।  

PunjabKesari

ऐसा है मां शैलपुत्री का स्वरूप
मां शैलपुत्री के स्वरूप की बात करें तो मां के माथे पर अर्ध चंद्र स्थापित है। मां के दाहिने हाथ में त्रिशूल है और बाएं हाथ में कमल का फूल है। वे नंदी बैल की सवारी करती हैं। मां शारदा देवी मंदिर के प्रधान पुजारी पवन पांडे महाराज द्वारा आज माता का भव्य श्रृंगार महा आरती एवं  कीर्तन भजन किया गया।

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!