उज्जैन के षट दर्शन संत समाज के अध्यक्ष ने वृंदावन की कथावाचक से की छेड़छाड़! बोली- मेरे पास गंदी बातों की रिकॉर्डिंग

Edited By meena, Updated: 25 May, 2022 02:02 PM

case of molesting the narrator of vrindavan

उज्जैन के गऊघाट मार्ग स्थित आश्रम के संचालक महंत रामेश्वर दास पर वृंदावन की 27 साल की कथावाचक ने छेड़छाड़ के आरोप लगाए हैं। महंत रामेश्वर दास उज्जैन षट दर्शन संत समाज के अध्यक्ष भी हैं और महाकाल मंदिर समिति के पूर्व सदस्य के प्रतिनिधि रह चुके हैं।...

उज्जैन: उज्जैन के गऊघाट मार्ग स्थित आश्रम के संचालक महंत रामेश्वर दास पर वृंदावन की 27 साल की कथावाचक ने छेड़छाड़ के आरोप लगाए हैं। महंत रामेश्वर दास उज्जैन षट दर्शन संत समाज के अध्यक्ष भी हैं और महाकाल मंदिर समिति के पूर्व सदस्य के प्रतिनिधि रह चुके हैं। कथावाचन ने मंगलवार को महामंडलेश्वर ज्ञानदास महाराज और अन्य साधु-संतों के साथ थाने पहुंचकर महंत के खिलाफ शिकायत की है। हालांकि इस पूरे मामले में महंत ने सारे आरोपों को निराधार बताया है और कहा है कि मुझे फंसाने की कोशिश की जा रही है।

PunjabKesari

कथावाचक के मुताबिक, महंत से उसकी मुलाकात सितंबर 2021 में गुरु आश्रम पर हुई थी। उसने उसे तंत्र विद्या सिखाने के बहाने आश्रम बुलाया और वहां उससे अश्लील हरकतें की। जब कथावाचक ने इसका विरोध किया तो महंत ने उसके जान से मारकर क्षिप्रा में फेंकने की धमकी दी। पीड़िता का दावा है कि रामेश्वर दास महाराज के फोन रिकॉर्डिंग भी उसके पास है। जिसकी जानकारी उसने अपने गुरुजी ज्ञानदास महाराज को दी। इसके बावजूद रामेश्वर दास महाराज उसे लगातार आश्रम में बुलाता रहा। उससे दुष्कर्म करने की कोशिश की। इसके बाद कथावाचक ने मामले की जानकारी दत्त अखाड़ा को दी। सभी साधु-संतों ने उसका साथ देने की बात कहीं लेकिन इसी बीच महंत ने कथावाचक और महामंडलेश्वर ज्ञानदास महाराज की शादी के झूठे डॉक्यूमेंट्स वायरल कर दिए। पीड़िता का दावा है कि उसने शादी नहीं की लेकिन महंत ने गौशाला के नाम पर डॉक्यूमेंट्स लिए थे, जो उसने महंत को वॉट्सऐप पर सेंड किए थे। इसके बाद महंत ने पीड़िता को बेहोश करवाकर उसके साइन ले लिए।

PunjabKesari

कथावाचक जब थाने में महंत के खिलाफ शिकायत कर रही थी, इसी बीच ज्ञानदास (कथावाचक के गुरु) के साथ उनकी शादी के फोटो और सर्टिफिकेट सोशल मीडिया पर वायरल हो गए। शादी के सर्टिफिकेट में कथावाचक की उम्र 27 साल है और पता अशोकनगर का है वहीं पति ज्ञानदास की उम्र 42 है। यह विवाह उज्जैन के चिंतामन मंदिर में होने का जिक्र है। मामले ने तूल उस समय पकड़ ली जब सोशल मीडिया पर कथावाचक के शादी के फोटो और सर्टिफिकेट वायरल हुए। इत्तेफाक यह था कि ये फोटो और सर्टिफिकेट उसी समय वायरल हुए जब कथावाचक थाने में महंत के खिलाफ शिकायत दर्ज करवा रही थी।

PunjabKesari

वहीं महंत रामेश्वर ने इन सारे आरोपों को नकारते हुए कहा है कि मुझे फंसाने की साजिश रची जा रही है। महंत रामेश्वर दास के अनुसार, वह कथावाचक को अपनी बेटी मानते हैं। यह घिनौना आरोप है। इससे मेरा कोई लेना-देना नहीं है। महंत के अनुसार, उसने कथावाचक की शादी करवाई उसका कन्यादान किया। पूरे विधि विधान से चिंतामण गणेश मंदिर में पिछले साल महामंडलेश्वर से उसकी शादी कराई। । कथावाचक ने उससे शादी के बारे में किसी को कुछ भी बताने से मना किया था। उसका कहना था कि यदि शादी की बात बाहर निकली तो भक्त उसकी आवभगत नहीं करेंगे। इसलिए कथावाचक ने यह बात छिपाकर रखी। महंत के आरोप है कि एक महिला जो कथावाचक की पूर्व की जान पहचान की है, उसने यहां आकर संतों से कहा कि कथावाचक ने आश्रम बेच दिया है और शादी कर ली है। लेकिन कथावाचक को लगता है महिला को ऐसा करने के लिए मैंने कहा था। इसलिए अब मुझ पर झूठे आरोप लगाए जा रहा हैं और फंसाया जा रहा है।

Related Story

Trending Topics

Ireland

221/5

20.0

India

225/7

20.0

India win by 4 runs

RR 11.05
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!