मजदूर की बेटी ने किया मेरिट में टॉप, रोजाना 6 किमी साइकिल चलाकर जाती थी स्कूल, गांव में जश्न का माहौल

Edited By meena, Updated: 29 Apr, 2022 04:57 PM

laborer s daughter tops merit

MP बोर्ड का आज रिजल्ट घोषित कर दिया गया और दसवीं की टॉप लिस्ट में छतरपुर के गांव नारायनपुरा की बेटी प्रदेश में टॉप आई है। छतरपुर जिले की नैन्सी दुबे ने प्रदेश में पहला स्थान पाया है। जहां उसने 500 में से 496 अंक पाकर प्रदेश में पहला स्थान हासिल किया...

छतरपुर(राजेश चौरसिया): MP बोर्ड का आज रिजल्ट घोषित कर दिया गया और दसवीं की टॉप लिस्ट में छतरपुर के गांव नारायनपुरा की बेटी प्रदेश में टॉप आई है। छतरपुर जिले की नैन्सी दुबे ने प्रदेश में पहला स्थान पाया है। जहां उसने 500 में से 496 अंक पाकर प्रदेश में पहला स्थान हासिल किया है। नैंसी दुबे छतरपुर एक्सीलेंस स्कूल क्रमांक 1 की स्टूडेंट है। जो रोजाना अपने गांव नारायणपुरा से 7 किलोमीटर साईकिल चलाकर स्कूल जाती है। नैन्सी ने अपनी इस कामयाबी का श्रेय अपने माता-पिता, बड़ी बहन परिवार और स्कूल की टीचर को दिया है।

PunjabKesari
PunjabKesari

नैंसी नारायणपुरा गांव की गरीब परिवार की बेटी है जिसके पिता किराने की दुकान पर काम करते हैं। शुरुआती दौर में पिता मजदूरी करते थे जिनकी दिहाड़ी न के बराबर थी।  नैंनी की तीन बहनें और 1 भाई है। कोरोना काल में स्कूल बंद होने पर उसकी बड़ी बहन वैशाली और मोबाईल से ऑनलाइन ने काफी मदद की है। अब वह आगे पढ़कर डॉक्टर बनना चाहती है। 
PunjabKesari

PunjabKesari

नैन्सी की इस कामयाबी को उसके स्कूल शिक्षकों में काफी खुशी है। टीचर का कहना है कि नैन्सी पढ़ाई मे बहुत होशियार है। माता संगीता और पिता राममनोज बेटी की इस कामयाबी का फल उसकी मेहनत को दे रहे हैं। उनका कहना है कि बेटी ने संघर्ष और गरीबी में पढ़ाई की है और इस मुकाम पर पहुंचकर आज अपने घर परिवार गांव के लिए प्रेरणाश्रोत बन गई है। नैन्सी की कामयाबी की खबर पाकर पूरे गांव में जश्न का माहौल है। लोग उसके घर बधाई देने पहुंच रहे हैं और उसका परिवार बेहद खुश है।

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!