कमिश्नरी लागू होने के बाद पहली बार शस्त्र पूजा में शामिल हुए कमिश्नर हरिनारायाण, अपराध को जड़ से खत्म करने की खाई कसम

Edited By meena, Updated: 05 Oct, 2022 12:25 PM

commissioner harinarayan who was involved in weapon worship

दशहरे पर शस्त्र पूजने करने की परंपरा सदियों पुरानी है। इस दिन हर घर में शस्त्रों की पूजा होती है। ऐसे में हमेशा शस्त्रों के साथ रहने वाली इंदौर पुलिस द्वारा कमिश्नरी लागू होने के बाद पहली बार शस्त्र पूजा की गई। इंदौर के डीआरपी लाइन में पुलिस कमिशनर...

इंदौर(सचिन बहरानी): दशहरे पर शस्त्र पूजने करने की परंपरा सदियों पुरानी है। इस दिन हर घर में शस्त्रों की पूजा होती है। ऐसे में हमेशा शस्त्रों के साथ रहने वाली इंदौर पुलिस द्वारा कमिश्नरी लागू होने के बाद पहली बार शस्त्र पूजा की गई। इंदौर के डीआरपी लाइन में पुलिस कमिशनर हरिनारायण मिश्र एडिशनल सीपी सहित अधिकारियों ने शस्त्र पूजन किया। जिसमे इंदौर के समस्त आला अधिकारी शामिल हुए। दशहरे पर्व को लेकर पुलिस कमिशनर हरिनारायण मिश्र ने बताया कि दशहरा पर्व असत्य पर सत्य की जीत का प्रतीक है। इस मौके पर पुलिस द्वरा शपथ ली गई है कि इंदौर पुलिस स्कल्प लेती है की पुलिस की अपराधियों पर प्रहार जारी रहेगा लगातार पुलिस अपराधियों के लिए चुनोती बनी रहेंगी पुलिस आमजनता से इस तरह व्यवहार करेगी की पुलिस को आम व्यक्ति अपना मित्र समझे।

PunjabKesari

दशहरे पर हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी पारंपरिक तरीके से शस्त्रों का पूजन किया गया जिसमें इंदौर पुलिस कमिशनर हरिनारायण चारी मिश्र, एडिशनल पुलिस कमिशनर सहित पुलिस के अधिकारियों द्वारा डीआरपी लाइन पर शस्त्र पूजा की गई। इंदौर पुलिस कमिशनर हरिनारायण चारी के अनुसार विजयादशमी बुराई पर अच्छाई और असत्य पर सत्य की जीत का पर्व है। ऐसे में पुलिस का प्रयास है कि वह पूरा काम करने वाले देश विरोधी ताकतों और झगड़ा करने वालों पर सख्ती से कार्रवाई करें। दशहरे पर हर बार शस्त्रपूजन के बाद अधिकारियों द्वारा हर्ष फायर किया जाता है, पुलिस कमिशनर हरिनारायण चारी द्वारा दशहरे पर्व पर हर्ष फायर  किया गया।

Related Story

Trending Topics

Pakistan

137/8

20.0

England

138/5

19.0

England win by 5 wickets

RR 6.85
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!