दल बदलने वाले नारायण त्रिपाठी का पुरजोर विरोध, ग्रामीणों ने खरी खोटी सुना उल्टे पांव लौटाया

Edited By meena, Updated: 26 Oct, 2020 01:53 PM

उपचुनाव में रोज नए नए किस्से सामने आ रहे हैं। कभी कोई विवादित बयां तो कभी कोई घटना दुर्घटना को लेकर राजनैतिक दलों के उम्मीदवार चर्चा में बने रहते हैं। ताज़ा मामला मांधाता विधानसभा का है। जहां कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हुए पूर्व विधायक नारायण पटेल...

खंडवा(निशात सिद्दीकी): उपचुनाव में रोज नए नए किस्से सामने आ रहे हैं। कभी कोई विवादित बयां तो कभी कोई घटना दुर्घटना को लेकर राजनैतिक दलों के उम्मीदवार चर्चा में बने रहते हैं। ताज़ा मामला मांधाता विधानसभा का है। जहां कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हुए पूर्व विधायक नारायण पटेल को गांव वालों के विरोध का सामना करना पड़ा। भाजपा के टिकट पर उपचुनाव लड़ रहे नारायण पटेल जब एक गांव में वोट मांगने गए तो ग्रामीणों ने साफ कहा कि जब वहां सुनवाई नहीं हुई तो पार्टी छोड़ दी जब यहां भी सुनवाई नहीं होगी तो फिर कहां जाएंगे। ग्रामीणों का विरोध देख भाजपा उम्मीदवार को वहां से भागना पड़ा गया। 

PunjabKesari

कांग्रेस छोड़ भाजपा में आए पूर्व विधायक नारायण पटेल को अब उन्हीं की विधानसभा में विरोध का सामना करना पड़ रहा। रविवार को प्रचार के दौरान सीवर और फेपरिया गांव में युवाओं ने नारायण पटेल को घेरकर वादाखिलाफी करने के आरोप लगाते हुए तगड़ा विरोध दर्ज कराया। युवाओं का कहना था कि जीतने के बाद गांव में चेहरा दिखाने नहीं आए और अब पाला बदलकर एक बार फिर हम से वोट मांगने आ गए हैं। 

PunjabKesari

ग़ुस्साए युवाओं की बातों का नारायण पटेल भी जवाब नहीं दे पाए और युवाओं ने भाजपा प्रत्याशी नारायण पटेल के सामने ही निर्दलीय प्रत्याशी के पक्ष में नारे लगाते हुए कहा कि यहां पर इस गांव में अब हम किसी को वोट नहीं देंगे सिर्फ निर्दलीय को ही वोट देंगे। इस बीच प्रचार को बीच में छोड़ कर के ही भाजपा प्रत्याशी नारायण पटेल अपने समर्थकों के साथ उलटे पैर वापस होना पड़ा। बतादें कि ग्रामीण उनके गांव में विकास कार्य नहीं होने से नाराज थे।

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!