बेटी की शादी में रोड़ा बन गए अपने, SP सिद्धार्थ बहुगुणा ने सजवा दिया मंडप...

Edited By meena, Updated: 02 May, 2022 07:15 PM

sp siddhartha bahuguna decorated the pavilion

लाडली लक्ष्मी योजना के जरिए जिस तरह से मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बेटियों के कल्याण के लिए जुटे हुए हैं ठीक उसी तरह संवेदनशीलता के साथ उनके अधिकारी भी बेटियों के मामले में उनके कल्याण के लिए सबसे आगे हैं। जबलपुर में भी एक ऐसा ही...

जबलपुर(विवेक तिवारी): लाडली लक्ष्मी योजना के जरिए जिस तरह से मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बेटियों के कल्याण के लिए जुटे हुए हैं ठीक उसी तरह संवेदनशीलता के साथ उनके अधिकारी भी बेटियों के मामले में उनके कल्याण के लिए सबसे आगे हैं। जबलपुर में भी एक ऐसा ही मामला सामने आया जहां एक बेटी के विवाह में रुकावट उनके ही परिवार के लोग डाल रहे थे। हाल यह था कि घर में मंडप भी गाड़ने नहीं दिया जा रहा था। ऐसे में मदद की गुहार लेकर सुबह-सुबह ही यह परिवार थाना सिहोरा पहुंच गया, जहां पर परिवार को लगा कि यहां भी उनकी समस्या का समाधान नहीं होगा लेकिन तभी इस पूरे मामले की जानकारी किसी ग्रामीण ने जबलपुर पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा को दी और उन्होंने तत्काल इस समस्या का समाधान किया।

PunjabKesari

दरअसल, सुभद्रा कोल जोकि बरखेड़ा की निवासी है। अपनी बेटी राधा कोल को लेकर सिहोरा थाने पहुंची थी उसने वहां पर शिकायत की थी कि उसकी बेटी के शादी में उसके घर में ही मंडप नहीं गाड़ने दिया जा रहा है। उसने अपने जेठ सतीश, जेठानी मुन्नी बाई उसके लड़के संतराम और सुरेंद्र पर आरोप लगाया कि वे मंडप नहीं गाड़ने दे रहे हैं। ये परिवार अपनी समस्याओं को लेकर सुबह सुबह ही सिहोरा थाने पहुंच गया था। वहां पर जब समस्या के समाधान में देरी होने लगी तो किसी ग्रामीण ने एसपी जबलपुर सिद्धार्थ बहुगुणा को पूरी जानकारी दी, और जैसे ही जानकारी एसपी को लगी उन्होंने तत्काल सबसे पहले थाना प्रभारी को निर्देश दिए कि महिला और बेटी को पुलिस की गाड़ी में लेकर उनके गांव जाए। उनकी समस्या का समाधान किया जाए एसपी के निर्देश पर सिहोरा थाना प्रभारी मौके पर पहुंचे। समस्या का समाधान करने लगे, इसी बीच जिले के संवेदनशील पुलिस कप्तान सिद्धार्थ बहुगुणा ने मामले को बेहद ही गंभीरता से लिया और एसडीओपी सिहोरा भावना मरावी को भी मौके पर भेजा परिवार की समस्या को समझा गया और दूसरे पक्ष को भी समझाइश दी गई कि विवाह के बीच किसी प्रकार के व्यवधान उत्पन्न नहीं होना चाहिए। इस बीच पुलिस ने अपने सामने ही मंडप गड़वाया व विवाह का कार्यक्रम भी शुरू करवाया। साथ ही पुलिस ने भरोसा दिलाया कि बच्ची का विवाह पुलिस के संरक्षण में होगा। आप लोग कोई चिंता ना करें समस्या के समाधान होने पर इस गरीब आदिवासी परिवार ने पुलिस अधीक्षक जबलपुर सिद्धार्थ बहुगुणा का आभार जताया है।

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!