'किशोर कुमार अवार्ड' के लिए फिल्मी सितारों को आना होगा खंडवा, मुंबई नहीं पहुंचाएगी शिवराज सरकार- वन मंत्री विजय शाह

Edited By meena, Updated: 05 Aug, 2022 12:17 PM

statement of mp forest minister regarding kishore kumar award

मध्यप्रदेश के खंडवा में वन मंत्री ने प्रदेश सरकार द्वारा दिए जाने वाले राष्ट्रीय किशोर कुमार अलंकरण सम्मान को लेकर बड़ा बयान दिया है। 4 अगस्त को किशोर कुमार के जन्मदिन पर होने वाले आयोजन में वन मंत्री ने कहा कि अबकी बार गायन के क्षेत्र में किशोर...

खंडवा(निशात सिद्दिकी): मध्यप्रदेश के खंडवा में वन मंत्री ने प्रदेश सरकार द्वारा दिए जाने वाले राष्ट्रीय किशोर कुमार अलंकरण सम्मान को लेकर बड़ा बयान दिया है। 4 अगस्त को किशोर कुमार के जन्मदिन पर होने वाले आयोजन में वन मंत्री ने कहा कि अबकी बार गायन के क्षेत्र में किशोर कुमार अलंकरण सम्मान दिया जाएगा। लेकिन जिसे भी यह सम्मान दिया जाएगा, उसे खंडवा आ कर ही इसे लेना होगा हम (सरकार) उसे मुंबई जाकर यह सम्मान नहीं देगी। अगर वह खंडवा नहीं आते है तो फिर उनका सम्मान केंसिल हो जाएगा। बता दें कि मध्यप्रदेश सरकार 13 अक्टूबर यानि हरफनमौला कलाकार किशोर कुमार की पुण्यतिथि पर उनकी याद में राष्ट्रीय किशोर कुमार अलंकरण सम्मान से किसी एक फिल्मी हस्ती को नवाजती है।
PunjabKesari

पार्श्वगायक किशोर कुमार का जन्मदिन 4 अगस्त को मनाया जाता है। बॉलीवुड के एक्टर, प्रोड्यूसर और अपनी मधुर आवाज से भारतीय सिनिमा में बुलंद मकाम पाने वाले कलाकार किशोर कुमार का जन्म मध्यप्रदेश के खंडवा में हुआ था। खंडवा में उनके जन्मदिन पर अनेकों आयोजन होते है। खंडवा में किशोर संस्कृतिक प्रेरणा मंच हर वर्ष गायन प्रतियोगिता का आयोजन करता है। इसी आयोजन के अंतिम दिन किशोर नाइट का भी आयोजन होता है। किशोर नाइट में मंच से बोलते हुए मध्यप्रदेश के वन मंत्री और खंडवा जिले की हरसूद विधानसभा से विधायक डॉ कुंवर विजय शाह ने एक बड़ा बयान दिया है। मंत्री विजय शाह ने कहा कि भोपाल में दिए जाने वाला किशोर कुमार सम्मान हम ही खंडवा लाए थे। लेकिन अब तक गायन के क्षेत्र में यह सम्मान किसी को नहीं है मिला है। हमने प्रदेश के संस्कृति मंत्री से बात की है। इस बार का किशोर सम्मान गायन के क्षेत्र में दिया जाएगा। लेकिन यह सम्मान जिसे भी दिया जाएगा उसे खंडवा आकर ही यह सम्मान लेना होगा। हम (सरकार) इस सम्मान को देने मुंबई नहीं जाएंगे। उन्होंने कहा कि इस सम्मान की राशि कुछ कम है। इसलिए कलाकार इसे लेने यहां आते नहीं है। अब से जो इसे लेने यहां नहीं आएगा उसका सम्मान केंसिल कर दिया जाएगा। दरअसल कुछ कलाकारों ने खंडवा आकर सम्मान ग्रहण नहीं किया इस बात को लेकर वन मंत्री सहित खंडवा के लोग नाराज हैं।

PunjabKesari

वन मंत्री विजय शाह ने यह बात बोलने के बाद कार्यक्रम में मौजूद लोगों से भी सहमति लेते हुए पूछा कि क्या आप मेरी बात से सहमत है। आयोजन में शामिल लोगों में जब उनकी बात पर सहमति जताई तो उन्होंने कहा कि वह इस विषय पर मुख्यमंत्री और संस्कृति मंत्री से बात करेंगे। बता दें कि राष्ट्रीय किशोर कुमार अलंकरण सम्मान पहले राजधानी भोपाल में ही दिया जाता था। लेकिन जब विजयी शाह प्रदेश के सांस्कृति मंत्री बने तो उन्होंने इस सम्मान को किशोर कुमार के पैतृक शहर में देने की घोषणा की और उसके बाद से यह सम्मान खंडवा में ही दिया जाने लगा।

क्या है राष्ट्रीय किशोर कुमार सम्मान
राष्ट्रीय किशोर कुमार सम्मान मध्य प्रदेश शासन द्वारा हिन्दी सिनेमा के क्षेत्र में निर्देशन, अभिनय, पटकथा तथा गीत लेखन के क्षेत्र में विशिष्ट योगदान के लिए प्रदान किया जाता है। मध्य प्रदेश शासन के संस्कृति विभाग ने उत्कृष्टता और सृजन को राष्ट्रीय स्तर पर सम्मानित करने की अपनी सुप्रतिष्ठित परम्परा का अनुसरण करते हुए 'राष्ट्रीय किशोर कुमार सम्मान' देने की शुरुआत की है।गौरतलब है कि अब तक राष्ट्रीय किशोर कुमार सम्मान फ़िल्म जगत से जुड़े 22 लोगों को अलग अलग कैटेगरी के लिए मिल चुका है।

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!