सभी 28 सीटें जीतने के बाद भी सरकार से दूर रहेगी कांग्रेस, सेफ जोन में बीजेपी

Edited By Vikas Tiwari, Updated: 25 Oct, 2020 05:11 PM

congress will stay away from government even after winning all 28 seats

मध्यप्रदेश में उपचुनाव के चलते जहां पूर्व मुख्यमंत्री लगातार सभाएं कर रहे हैं, वहीं उन्हीं की पार्टी के विधायक लगातार इस्तीफा देकर भाजपा जॉइन कर रहे हैं। दमोह से कांग्रेस विधायक राहुल सिंह लोधी भी इस्तीफा देक...

भोपाल (इजहार हसन खान): मध्यप्रदेश में उपचुनाव के चलते जहां पूर्व मुख्यमंत्री लगातार सभाएं कर रहे हैं, वहीं उन्हीं की पार्टी के विधायक लगातार इस्तीफा देकर भाजपा जॉइन कर रहे हैं। दमोह से कांग्रेस विधायक राहुल सिंह लोधी भी इस्तीफा देकर भाजपा जॉइन कर चुके हैं। इसे के साथ कांग्रेस की बहुमत से दूरी बढ़कर 86 सीटों पर पहुंचे चुकी है।

PunjabKesari ,. Madhya Pradesh, Bhopal, BJP, COngress, MP Assembly

करीब 7 महीने पहले ज्योतिरादित्य सिंधिया के इस्तीफा देने के बाद कांग्रेस के 22 विधायकों ने भी पार्टी छोड़ दी थी। जिसके चलते कमलनाथ सरकार गिर गई और प्रदेश में एक बार फिर शिवराज सरकार की वापस हुई। इस दौरान कुछ ही महीनों के अंतराल में कांग्रेस के तीन और विधायकों ने पार्ट से इस्तीफा देकर भाजपा की सदस्यता ले ली। इसी के साथ कांग्रेस छोड़ने वाले विधायकों की संख्या बढ़कर 25 पहुंच गई है बहुमत से कांग्रेस काफी दूर पहुंच गई। इसी बीच अब राहुल सिंह ने भी पार्टी से इस्तीफा देकर इस आंकड़े को 26 तक पहुंचा दिया है। यानि कि अब कांग्रेस से इस्तीफा देने वालों की संख्या बढ़कर 26 हो गई है, और कांग्रेस के पास विधायकों की संख्या बढ़कर 86 रह गई है।

PunjabKesari, Madhya Pradesh, Bhopal, BJP, COngress, MP Assembly

बड़ी बात ये है कि भाजपा के पास वर्तमान में कुल 107 विधायक हैं। कमलनाथ सरकार में मंत्री रहे प्रदीप जायसवाल ने भी भाजपा को समर्थन दिया है। वहीं निर्दलीय विधायक राणा विक्रम सिंह , विधायक सुरेंद्र शेरा और विधायक केदार डाबर बीजेपी को समर्थन दे चुके हैं। इसके अलावा सपा और बसपा के उम्मीदवार भी भाजपा को समर्थन दे चुके हैं। जिसके चलते भाजपा को अब कुल 114 विधायकों को समर्थन हासिल हो चुका है। अब भाजपा बहुमत के आंकड़े से कुल 2 सीट ही दूर रह गई है।


एक और इस्तीफे के बाद
अब तक- 26
कांग्रेस  -  86
भाजपा -  107

 

भाजपा को अब जादुई आंकड़ा छूने के लिए सिर्फ दो सीटों की दरकार है। ऐसे में होने वाले उपचुनाव की 29 सीटों में से अगर भाजपा 5 भी जीत जाती है तो बीजेपी की सरकार आसानी से बन जाएगी। क्योंकि भाजपा को सरकार बनाने के लिए सिर्फ दो ही सीटों की जरूरत है औऱ वहीं हम बात करें कांग्रेस की तो कांग्रेस को अब सभी 29 सीटों पर जीत दर्ज करनी होगी। तभी संभव है कि वह सरकार में वापसी कर पाए।
 

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!