भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप के बाद भी नहीं हुई तहसीलदार पर FIR, EOW की शिकायत भी गैरअसरदार

Edited By meena, Updated: 29 Oct, 2020 06:45 PM

fir not on tehsildar even after serious allegations of corruption

सरकारी फाइलों में बड़ी हेरा फेरी का आरोप लगने और ईओडब्ल्यू में बार बार शिकायत दर्ज होने के बावजूद भी तहसीलदार जैसे बड़े अफसर पर सरकार किस कदर मेहरबान है उसकी बानगी जबलपुर में देखने को मिल रही है। जहां भ्रष्टाचार जैसे बड़े आरोप लगने के बावजूद भी...

जबलपुर(विवेक तिवारी): सरकारी फाइलों में बड़ी हेरा फेरी का आरोप लगने और ईओडब्ल्यू में बार बार शिकायत दर्ज होने के बावजूद भी तहसीलदार जैसे बड़े अफसर पर सरकार किस कदर मेहरबान है उसकी बानगी जबलपुर में देखने को मिल रही है। जहां भ्रष्टाचार जैसे बड़े आरोप लगने के बावजूद भी तहसीलदार मुनव्वर खान पर कोई कार्रवाई नहीं हो रही। बताया जा रहा है कि भोपाल मुख्यालय में अभियोजन चलाने के लिए अनुमति मांगी गई लेकिन अनुमति नहीं मिली। आपको बता दें मुन्नवर खान की शिकायत 4 बार ईओडब्ल्यू जबलपुर में की जा चुकी है लेकिन उनपर कोई कार्रवाई नहीं हो पाई है।

PunjabKesari
रिश्वतखोरी और सुर्खियों में रहे मुन्नवर खान
फोन पर रिश्वत मांगने के आरोप में जबलपुर में कलेक्टर के रूप पदस्थ रही तेज तर्रार आईएएस ऑफिसर छवि भारद्वाज से सजा पाने वाले तहसीलदार मुनव्वर खान को जमीनी हेरफेर करके मुनाफा कमाने के आरोप भी है। बताया जाता है कि जब भी कभी जमीनी हेरफेर की बात हो तो सभी मुनव्वर खान से ही संपर्क करते हैं। जबलपुर की तत्कालीन कलेक्टर छवि भारद्वाज ने अपने सख्त तेवर दिखाते हुए रिश्वत मांगते हुए एक ऑडियो वायरल होने के बाद मुनव्वर खान को ऑफिस में अटैच कर दिया था लेकिन उसके बाद  एक बड़ा मामला निकल कर सामने आया जिसमें मुनव्वर खान ने जमीनी नक्शे पर ही हेरफेर कर बिल्डर को लाभ पहुंचाने का काम किया है। लक्ष्मीपुर की जमीन पर शैलेश जॉर्ज ने हेरफेर करने के आरोप तत्कालीन तहसीलदार अधारताल पर लगाए हैं कि उन्होंने उसकी जमीन के नक्शे पर ही सड़क निकलवा दी। इस बाबत एसडीएम आधारताल में केस भी चल रहा है। शैलेश जार्ज ने बताया कि उसने लक्ष्मीपुर की जमीन में 18000 स्क्वायर फिट का एक प्लॉट खरीदा है जिसका खसरा क्रमांक 56 / 6 है 2012 में यही खसरा क्रमांक में अंकित है लेकिन 2017 में मैप में बदलाव करते हुए तहसीलदार मुनव्वर खान ने इस ज़मीन को खसरे से अलग करते हुए पीछे दर्शा दिया जिससे कि लक्ष्मीपुर से होकर जाने वाली कॉलोनी के लिए सड़क बिल्डर बना सकें।

PunjabKesari
2012 का मेप  2017 में बदल दिया
लक्ष्मीपुर की जमीन पर  शैलेश जार्ज को एसडीएम कार्यालय ने स्थगन आदेश दिया है। इस तबादले कि वजह भी हेराफेरी बताए जा रहे हैं। बताया जा रहा है कि उन्होंने  2012 में जो 56 /6 खसरा की जमीन है उसको  2017 में  बदलते हुए कॉलोनी की सड़क के लिए जमीन दे दी। इस तरह से उसने  खेल करके बिल्डर को लाभ पहुंचाया और अब शैलेश जार्ज को लगातार धमकी भी दी जा रही है कि वे चुप होकर बैठ जाए और व्यवधान उत्पन्न ना करें। हालांकि लड़ाई पूरी तरह से चल रही है और विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है लेकिन चौंकाने वाली बात यह है कि तहसीलदार मुनव्वर खान पर अभी तक कोई भी एक्शन नहीं हुआ है।
PunjabKesari
ईओडब्ल्यू में मुनव्वर खान की शिकायत एफ आई आर दर्ज करने का नहीं मिला आदेश
मुनव्वर खान ने गंभीर आरोप लगने के बाद लेकर ईओडब्ल्यू में शिकायत भी की गई शिकायत के तथ्यों पर जांच होने के उपरांत सूत्र बताते हैं कि मुनव्वर खान पर आरोप सिद्ध होने जा रहा है लेकिन एफ आई आर दर्ज करने के लिए एसपी ईओडब्ल्यू ने जो पत्र मध्य प्रदेश शासन को भेजा है। वहां से अभी तक सहमति नहीं बनी है लिहाजा मुनव्वर खान पर अभी एफ आई आर दर्ज नहीं हो सकी है लेकिन यह तय है कि जिस तरह से लगातार उनके खिलाफ शिकायत आ रही है अब जल्द मामला दर्ज होगा।

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!