अस्पताल से भगाया तो चोटिल पत्नी को हाथ ठेले पर लेकर निकला पति, औलाद ने भी किया बेघर

Edited By meena, Updated: 24 Oct, 2020 04:34 PM

मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा में मन को झकझोर देने वाली तस्वीर सामने आई है जहां जिला अस्पताल से जबरन डिस्चार्ज किए जाने के बाद एक पति अपनी चोटील पत्नी को हाथ ठेले में ले जाते हुए नजर आया। पत्नी को लिटाकर ठेला खींच रहे पति करण उईके ने बताया कि आठ दिन पहले...

छिंदवाड़ा(साहुल सिंह): मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा में मन को झकझोर देने वाली तस्वीर सामने आई है जहां जिला अस्पताल से जबरन डिस्चार्ज किए जाने के बाद एक पति अपनी चोटील पत्नी को हाथ ठेले में ले जाते हुए नजर आया। पत्नी को लिटाकर ठेला खींच रहे पति करण उईके ने बताया कि आठ दिन पहले पोला ग्राऊंड के पास मैजिक वाहन ने उसकी पत्नी को टक्कर मार दी थी जिससे उसके दोनों पैरों में चोट आई हुई थी। इसके बाद उसे इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया हुआ था बुधवार शाम को जिला अस्पताल से यह कहते हुए छुट्टी दे दी गई है कि जाओ अब नागपुर जबलपुर जहां इलाज कराना हो लेकर जाओ।

PunjabKesari

पीड़ित करण उईके ने बताया कि वह भीख मांगकर गुजारा करते है उसका घर द्वार भी नहीं है। ऐसे में घायल पत्नी को लेकर कहा जाए यह समझ नहीं आ रहा है। अस्तपाल में बोला कि अभी और रहने दो, लेकिन वे नहीं माने और ले जाने की पर्ची थमा दी।

PunjabKesari

ठेले पर घायल पत्नी को लेकर नजर आए करण उईके ने बताया कि सिवनी रोड़ शक्कर मिल के पास उसका मकान है। जहां उसके बच्चों ने विवाद के चलते घर से निकाल दिया। पिछले सात-आठ साल से वह बेघर होकर भीख मांग कर गुजर बसर कर रहे हैं।

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!