EOW का छापा पड़ते ही हीरो केसवानी ने पी लिया था फिनायल, अकूत धन का मालिक निकला क्लर्क

Edited By Devendra Singh, Updated: 04 Aug, 2022 06:50 PM

hero keswani drank phenyl as soon as eow was raided

भोपाल स्थित क्लर्क के घर पर EOW की टीम ने छापा मारा तो घबराकर फिनायल पी लिया।

भोपाल (विवान तिवारी): बुधवार को EOW ने राजधानी भोपाल के एक क्लर्क के घर पर छापा मार कार्रवाई की थी। कार्रवाई में 2000, 200 और 500 रुपए के मोटे-मोटे बंडल बरामद हुए थे। यह वही क्लर्क है, जिसको शुरुआती दौर में 4000 रुपए सैलरी मिला करती थी। हीरो केसवानी नाम के क्लर्क के बैरागढ़ स्थित घर पर जब EOW का छापा पड़ा तो अफसर भी ये अकूत दौलत देखकर दंग रह गए।

अकूत धन का मालिक निकला क्लर्क  

मध्य प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा विभाग में काम करने वाले सरकारी बाबू का नाम है वैसे तो हीरो केसवानी है। लेकिन इस हीरो की विलेन वाली करतूत के बारे में पहले ही EOW यानी आर्थिक अपराध अन्वेषण ब्यूरो को लग चुकी थी। बाबू के खिलाफ लगातार शिकायतें मिल रही थी। जिसके बाद तड़के सुबह EOW की टीम केसवानी के घर दबिश दी। जिसमें 85 लाख रुपए से अधिक नगद और 12 से ज्यादा संपत्तियों के दस्तावेज घर से बरामद हुए। साथ ही नोटों के बंडल इतने ज्यादा थे कि देर शाम तक गिनती चलती रही।

छापा पड़ते ही पी लिया फिनाइल

हैरानी की बात यह है कि जैसे ही EOW की टीम हीरो केसवानी के घर छापा मारने पहुंची। तो 54 साल के बाबू ने फिनाइल पी लिया और वह बेहोश हो गया। ऐसा बताया जा रहा है कि EOW की कार्रवाई से बचने के लिए उसने ऐसा किया था। तबियत बिगड़ने के बाद केसवानी को इलाज के लिए हमीदिया अस्पताल में भर्ती किया गया। हालांकि अब उनकी हालत खतरे से बाहर बताई गई है। ऐसी जानकारी मिल रही है कि हीरो केसवानी ने जब अपनी नौकरी की शुरुआत की थी, तब उनकी सैलरी सिर्फ 4 हजार रुपए थी और अभी उसकी सैलरी 50 हजार रुपए महीना है। EOW के एक्शन के बाद से हर कोई हैरान है कि हीरो केसवानी ने इतनी काली कमाई कहां से जुटाई होगी? 

 

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!