‘वोट के बदले बंदूक’ वोटरों को लुभाने के लिए ग्वालियर में अनोखा ऑफर

Edited By meena, Updated: 22 Jun, 2022 06:07 PM

unique offer in gwalior to woo voters vote for gun

मध्य प्रदेश में पंचायत और निकाय चुनाव की तैयारियां जोरों पर है। ग्वालियर में भी सरपंची के लिए वोटिंग का काउंट डाउन शुरू हो चुका है। वोटरों को लुभाने के लिए उम्मीदवार एडी चोट का जोर लगा रहे हैं। प्रचार के साथ साथ चुगलियों का बाजार भी गर्म है। एक...

ग्वालियर(अंकुर जैन): मध्य प्रदेश में पंचायत और निकाय चुनाव की तैयारियां जोरों पर है। ग्वालियर में भी सरपंची के लिए वोटिंग का काउंट डाउन शुरू हो चुका है। वोटरों को लुभाने के लिए उम्मीदवार एडी चोट का जोर लगा रहे हैं। प्रचार के साथ साथ चुगलियों का बाजार भी गर्म है। एक उम्मीदवार दूसरे उम्मीदवार के समर्थकों के खेमे पर वोटर को लालच देने के आरोप लगा रहे हैं। आरोप है कि प्रत्याशी पानी, हैंडपंप, बिजली की डीपी से लेकर वोट के बदले बदूंक देने का लालच दे रहे हैं। भले ही कोई लिखित शिकायत न पहुंची हो लेकिन शिकवा शिकायते पुलिस और प्रशासन के अफसरों के कानों तक भी पहुंची है।

PunjabKesari

सरपंच बनाओ गांव की तस्वीर बदल देंगे
ग्वालियर चंबल अंचल में सरपंची का चुनाव जीतना किसी जंग से कम नहीं है। मैदान में उतरे उम्मीदवार मतदाताओं से ताल ठोंक रहे हैं, सरपंच बनाओ गांव की तस्वीर बदल देंगे। लेकिन विकास के दावों के साथ वोट के बदले बंदूक से लेकर मनचाही जगह पर तबादले का ऑफर भी चल रहा है। मामला स्थानीय प्रशासन तक पहुंचा तो उनका कहना है कि ऐसे लोगों पर नजर रखी जा रही है, जो इस तरह का प्रलोबन दे रहे है। उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएंगी।

PunjabKesari

बिजली, पानी के साथ साथ बंदूक का ऑफर
मामला चाहे जो भी हो लेकिन मूलभूत सुविधाओं को तलते मतदाताओं की नब्ज चुनावी मैदान में उतरने वाले भी बखूबी समझते हैं। यह पहला मौका नहीं है जब वोट के बदले बंदूक का ऑफर चला हो। पंचायत से लेकर विधानसभा और लोकसभा तक चुनाव में यहां यह फंडा चलता है। यह बात और चुनाव जीतने के बाद यह वादे भी ठंडे बस्ते में ही जाते हैं। बंदूक का तो पता नहीं लेकिन गर्मी से तप रहे ग्वालियर के तमाम गांवों में बिजली और पानी की किल्लत है। खासकर घाटीगांव, तिघरा के पथरीले इलाके के कई गांव पानी के लिए परेशान भी हैं। इसलिए घर तक पानी, बिजली का ऑफर भी चल रहा है।

PunjabKesari

शिकायतों की फेरहिस्त लंबी...
वोटरों द्वारा दिए जा रहे प्रलोभनों की लिस्ट लंबी है। बूथ कैप्चरिंग का अंदेशा भी जताया जा रहा है। सभी खेमे एक दूसरे पर चुनाव में गड़बडी के आरोप लगाने से नहीं चूक रहे हैं। तिघरा और घाटीगांव की कुछ पंचायत में डकैतों की हलचल का खुटका बताया जा रहा है। पुलिस और प्रशासन का कहना है कि पंचायत चुनाव में किसी भी तरह की कोई गड़बड़ी नहीं होगी। इसके लिए पुख्ता तैयारी की जा चुकी है।

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!